शरारती बंदर- moral story in Hindi 

shararti bandar- naitik kahani Hindi me 

एक बार की बात है एक बहुत घने जंगल में एक शरारती बंदर रहता था।वह बंदर जंगल के सभी जानवरों को पेड़ों से फल तोड़कर मारा करता था।

वह बंदर इतना शरारती था कि वह यह भी नहीं देखता था कि नीचे कौन जा रहा है। वह सभी जानवरों को जोर-जोर से फल पैक कर मारता था।

एक बार की बात है गर्मी का मौसम था पेड़ों पर बहुत सारे आम लगे हुए थे।वह बंदर सभी पेड़ों पर घूम-घूम कर आमों का रस चूसता और खूब मजे करता था।

और तो और नीचे जाने वाले सभी जानवरों पर वह ऊपर से बैठे-बैठे आम फेंक कर मारता और फिर उन पर खूब हंसाता था।

एक दिन वहां से एक हाथी गुजर रहा था। उस समय वह शरारती बंदर पेड़ पर बैठकर आम खा रहा था।

हाथी को देखकर उसने अपना शरारती दिमाग चलाया और पेड़ से आम तोड़कर हाथी को मारा। एक  आम  हाथी के कान पर लगा और एक आम उसके आंख पर।

नीला सियार-moral story in Hindi

इससे हाथी को बहुत गुस्सा आया। उसने अपनी सूंड ऊपर उठाकर बंदर को गुस्से से अपनी सूंड में लपेट लिया और कहा कि मैं आज तुझे मार डालूंगा।

तू आने जाने वाले सभी जानवरों को परेशान करता है। इस पर बंदर ने अपने कान पकड़ लिए और माफी मांगी।

साथ ही साथ बन्दर ने ये भी कहा की अब से वह किसी को परेशान नहीं करेगा और न ही किसी को शिकायत का मौका देगा।

बंदर के बार बार माफी मांगने और रोने पर हाथी को उस पर दया आ गई और उसने बंदर को छोड़ दिया।

कुछ समय बाद दोनों में घनिष्ट मित्रता हो गई। बंदर अब अपने मित्र हाथी को पेड़ से फल तोड़ – तोड़ कर खिलाता और दोनों मित्र पूरे जंगल में घूमते रहते थे।

शिक्षा:

हमें किसी को परेशान नहीं करना चाहिए क्यूंकि उसका परिणाम हमेशा बुरा ही होता है।

Naughty Monkey moral story in Hindi-panchtantra story 


0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.