शेर और गाय-moral story in Hindi

sher aur gaay ki naitik kahani hindi me

एक बार की बात है, दूर किसी घने जंगल के पास चार गाय रहती थी| वह आपस में बहुत अच्छी दोस्ती भी थी|

कभी भी कोई भी गाय किसी भी गाय को अकेला नहीं छोड़ती थी| वह जांगल में घास खाने भी एक साथ ही जाती थी| और तो और वह आपस में एक दूसरे को खतरों से भी बचाती थी|

मूर्ख साधू और ठग- Moral story in Hindi

एक दिन जब वह जंगल में घास खाने गई, तब एक शेर की नज़र उन पर पड़ गई| उन्हें देखकर शेर को उनको खाने की इच्छा हुई|

इसके लिए शेर ने उन्हें पकड़कर दबोचने की कोशिश की| जब गाय ने शेर को आते देखा तो वे एक साथ होकर शेर से लड़ने लगी|

यह देखकर शेर डर गया और वहां से भाग गया| शेर उन पर हर रोज नज़र रखता था और एक सही मौके के फ़िराक में रहता था|

कुछ दिन ऐसे ही बीत गए| धीरे-धीरे गायों में आपस में लड़ाई होने लगी| अब उनकी दोस्ती में दरार आ रही थी|

चिड़िया और हाथी- moral story in Hindi

अब वे कोई भी काम एक दूसरे के साथ नहीं करना चाहती थी| वे जंगल में घास खाने भी अलग-अलग जाती थी|

शेर तो हमेशा की तरह की उन पर नज़र रखता था| अब उसे मौका मिल गया था| उसने एक-एक करके सभी गायों को मार डाला|

शिक्षा:

हमेशा एकता में शक्ति होती है| एक साथ रहे कर हम बड़े से बड़े खतरे से लड़ सकते है|

The Lion and the cows moral story in Hindi

 


0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.