चिड़िया घर- short essay in Hindi

चित्रों में हमने कई बार शेर, बाघ, भालू, चीते, हिरन आदि जंगली जानवरों को देखा है। मैं हमेशा सोचता था कि इन जीव जंतुओं को जंगल में जाकर कैसे देख सकते हैं। मैं इन्हें देखना बिल्कुल असम्भव समझता था।

एक दिन हमारे अध्यापक जी ने हमें बताया कि हम इन सभी जानवरों को आमने- सामने जाकर भी देख सकते हैं। मेरी इसके बारे में जानने की इच्छा ओर तेज़ हो गई।

फिर अध्यापक जी ने बताया कि सरकार ने एक चिड़िया घर बनाया है। जहाँ पर सभी प्रकार के जंगली जानवरों को देखा जा सकता है। यह जान कर हमने एक दिन चिड़िया घर घूमने का कार्यक्रम बनाया।

कार्यक्रम के अनुसार रविवार के दिन हमारा सारा परिवार चिड़िया घर देखने के लिए गया। दिल्ली में चिड़िया घर, मथुरा रोड के किनारे पुराने क़िले के पास स्थित है। यहाँ पर देश-विदेश के कई जंगली जानवरों को उनके वातावरण के अनुसार रखा हुआ है।

व्यायाम का महत्व- short essay in Hindi

हमने टिकट लेकर चिड़िया घर में प्रवेश किया। अंदर जाकर हमने कई प्रकार के पक्षियों को व जल पक्षियों को देखा। यहाँ पर हिरन, नील गाय, बारहसिंगा आदि घास खाने वाले जानवर दिखाई दिये।

एक गैंडा जिसके नाक पर सींग था उसको भी देखा।उसके बाद कई प्रकार के बंदर, लंगूर आदि दिखाई दिए। हमने बड़ी ख़ुशी व आनंद के साथ उन्हें देखा और उन्हें केले भी खिलाए।

इसके बाद हमने मांस खाने वाले भयानक जानवरों जैसे, शेर, बाघ, चीता, भालू, आदि को भी देखा। इन्हें लोहे के बड़े-बड़े पिंजरों में बंद कर रखा था। हमने उन्हें भी बहुत नज़दीक जाकर देखा।

इसके अतिरिक्त हमने यहाँ पानी में रहने वाले दरआयी घोड़े भी देखे। इस प्रकार सभी जंगली जीव जंतुओं को देखकर हम सब बहुत खुश हुए।

चिड़िया घर- short essay in Hindi

निकलते निकलते हमने देखा की चिड़िया घर के जानवरों की रक्षा के लिए वहाँ पर कर्मचारी रखे हुए है। जो जानवरों का  ध्यान रखने के साथ-साथ उन्हें भोजन भी देते है।

चिड़िया घर में हम सब ने खूब मनोरंजन किया, साथ ही साथ बहुत जानवरों के बारे में जानकारी भी ली।

short essay in hindi

 

 


0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.